Insurance : What is Insurance mean - Insurance kya hota hai (Insurance Policy) - Finance Offer
Insurance

Insurance : What is Insurance mean – Insurance kya hota hai (Insurance Policy)

Insurance-:

नमस्कार दोस्तों…
दोस्तों आपने लोगों से सुना होगा, घर लेलो, जमीन लेलो, फ्लैट लेलो , सोना लेलो I आज भी लोग ये सब बोलते है, लेकिन…
आज इन सभी के साथ एक शब्द लग जाता है, “Insurance”
कुछ और करो या ना करो , Insurance जरूर करवालो।
अब ये क्या है , इसके बारे में आज हम जानेंगे।

“Insurance” पर का मतलब होता है :-

आने वाले ख़तरे को कम करना, यानी अपनी जिंदगी में आने वाले समय में अगर कोई हानि हो जाती है तो उसे सही कर लेना है।

लेकिन…

हमें Insurane क्यों लेनी चाहिए?
Insurance कितने किस्म का होता है?
Insurance कितने किस्म का होता है?

आज हम आपको ये सभी जानकरी आप तक बिलकुल आसान भाषा में समझने का प्रयास करेंगे।

Insurance क्या है?

ये एक कानूनी अग्रीमेंट होता है , जो दो पार्टियों के बीच में होता है। ये दो पार्टियां होती है, Insurance करवाने वाली कम्पनी और जो व्यक्ति Insurance करवाना चाहता हो। इस के अनुसार यदि कोई व्यक्ति insurance company से बीमा लेता है तो भविष्य में होने वाली वितिय हानि को बीमा कम्पनी पूरा करती है।

बीमा क्या होता है, ये जान ने के बाद ये जान लेते है की बीमा काम कैसे करता है?
इस के अनुसार बीमा कंपनी बीमा लेने वाले से एक निश्चित राशि लेती है। जिसे PREMIUM कहते है। Premium लेने के बाद , यदि बीमा लेने वाले व्यक्ति को कोई नुक्सान हो जाता है तो बीमा कम्पनी अपने नियम और शर्तों के हिसाब से उस व्यक्ति के नुकसान कि भरपाई करती है। इसी प्रकार यदि किसी गाड़ी का अगर अपने बीमा करवाया हो तो बीमा कंपनी आपको मुआवजा देती है।

Insurance कितने प्रकार का होता है?

ये मुख्य रूप से 2 प्रकार का होता है।
1-: Life insurance
2-: General Insurance

लेकिन आज कल इस के बहुत सारे प्रकार बन चुके है।
Jaise-: Travle Insurance , Life insurance

आज हम इन्हीं सभी प्रकार के बारे में जान लेते है…

1 -: Life insurance -: इसी के नाम से पता चल जाता है कि ये बीमा लेने वाले व्यक्ति के जीवन से जुड़ा बीमा होता है। यानी जो व्यक्ति अपना बीमा करवाता है, उसकी अचानक अगर मृत्यु हो जाने पर बीमा कंपनी बीमा लिए हुए व्यक्ति के परिवार को मुआवजा देती है। यह बीमा तब बहुत ही कम का साबित होता है, जब घर के मुखिया के अचानक मृत्यु हो जाए। इस के हिसाब से बीमा कंपनी उस व्यक्ति के परिवार को वितिय साहायता देती है। इसलिए जीवन बीमा हर एक व्यक्ति को जरूर करवा लेना चाहिए।

2 -: GENERAL Insurance
बिमे के इस रूप में घर, वाहन, सेहत, आदि के बाइम शामिल होते हैं।
आज कल लोग घर का बीमा भी करवा लेते है। ऐसे में अगर उनके घर को किसी प्रकार का नुक्सान जो जाता है, भविष्य में , तो बीमा कंपनी उस नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजा देती है। इस में आग, बाढ़, भूकंप जैसी आपदाओं से हुए घर को नुक्सान शामिल है ।

इसी के साथ बात करते है सेहत बीमा की, आज कल लोगो को क्यी प्रकार के रोग लगे होते हैं , इसीलिए सेहत पर होने वाला खर्च भी काफी बढ़ गया है।
इसलिए यदि आप सेहत बीमा लेते है, तो आपके बीमार होने पर बिना कम्पनी आपको इलाज के लिए वितिय मदद करती है। आज कल ऐसे सेहत बीमा भी है जो आपको और आपके पूरे परिवार को बीमित कर सकती है।

अब बात करते है, वाहन बीमा की

इस में यदि किसी कारण से आपका वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है तो उसका मुआवजा भी बीमा कम्पनी हो देती है।
अब बात करते है फसल बीमा की।
इस बीमा में अगर किसान कि फसल किसी भी कारण से नष्ट हो जाती है , तो बीमा कम्पनी आपको इसका मुआवजा देती है।
आजकल यात्रा से जुड़े बिमों का भी बहुत प्रचलन बढ़ चुका है, इस बिमे के अनुसार यदि बीमा लिए हुए व्यक्ति को किसी प्रकार का यात्रा के अनुसार कोई नुकसान हो जाता है तो उस नुकसान को बीमा कम्पनी भरती है।

आज आपको ये पता लग ही गया होगा कि बीमा क्या है , ये इतना जरूरी क्यों है, और ये भविष्य में आपके लिए कितना फायदेमंद साबित हो सकता है।
तो दोस्तो आज के इस आर्टिकल में इतना ही , यदि आपका कोई सवाल हो या कोई सुझाव हो तो आप हमें coments में पूछ सकते है ।
अपना किम्मती समय निकालने के लिए धन्यवाद….

Leave a Reply

Your email address will not be published.